oyebangdu

 
  • ऑडियो:सातवां सालाना डोयाट (2018)(दूसरा दिन)

    ऑडियो सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें  http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/12/5-Dec-1.40-AM-online-audio-converter.com-1.mp3 दूसरा दिन 28.1...
    दिसंबर 7, 2018 ओये बांगड़ू
  • बाजार

    एक मान्यता, एक दिखावा जहाँ होड़ लगी नीचा , ऊँचा दिखाने की, और वहाँ दूर जंगल में.  शव काटता एक आदमी अपनी मान्यताओं से मजबूर उसके सपने बादलों में दूर जाक...
    दिसंबर 7, 2018 ओये बांगड़ू
  • विडियो :आ रहे हैं द रियल बांगडू

    आपने सचिन से लेकर धोनी तक,नेहरू से लेकर मोदी तक,टाटा से लेकर अम्बानी तक और स्टीव जाब्स से लेकर जुकरबर्ग तक सबके इंटरव्यू देखे होंगे,उनके बारे में पढ़ा ...
    दिसंबर 6, 2018 कमल पंत
  • ऑडियो:सातवां सालाना डोयाट (2018)(पहला दिन)

    ऑडियो सुनने के लिए इधर क्लिक करें  http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/12/5-Dec-1.35-AM-online-audio-converter.com_.mp3 लखनऊ से हरिद्वार ...
    दिसंबर 6, 2018 ओये बांगड़ू
  • फर्जी खबरों का मकडजाल और पत्रकारिता भाग 5

    ख़बरों का क्या असर पड़ता है हम मीडिया से जुड़े लोग भी कई बार असली और फर्जी खबर पहचानने में धोखा खा जाते हैं तो सोचिये उस आदमी का क्या होता होगा जो दिन भ...
    दिसंबर 5, 2018 कमल पंत
  • ऑडियो: बुलंदशहर हिंसा जहाँ भीड़ ने अफवाह सुन पुलिस वाले को मार डाला

    यहाँ सुनिए बुलंदशहर हिंसा की पूरी कहानी जहाँ  भीड़तन्त्र ने कानून नाम की चीज की चिड़िया बना दी http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/12/bulan...
    दिसंबर 5, 2018 ओये बांगड़ू
  • ऑडियो: छिपकली के नाना है …

    ऑडियो सुनने और पुरानी यादें ताज़ा करने के लिए यहाँ क्लिक करे  http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/12/Chipkali-Ka-Nana-Danasur-Gulzar-128kb...
    दिसंबर 4, 2018 ओये बांगड़ू
  • पिता

    मेरी धमनियों में दौड़ता रक्त और तुम्हारी रिक्तता महसूस करती मैं, चेहरे की रंगत का तुमसा होना सुकून भर देता है मुझमें मैं हूँ पर तुमसी दिखती तो हूँ खैर ...
    दिसंबर 4, 2018 ओये बांगड़ू
  • ऑडियो: नाख़ून से बाल उगवाने वाले बाबा बेच रहे है शैम्पू

      ऑडियो सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें – http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/12/AUD-20181203-WA0056-online-audio-convert...
    दिसंबर 3, 2018 ओये बांगड़ू
  • बच्चे की दर्दनाक मौत,स्कूल प्रशासन कितना जिम्मेदार ?

    सुबह से इन तस्वीरों को देख देख कर विचलित हो रहा हूँ,मेरे शहर की खबर है जहाँ एक बच्चे की बस के टायर के नीचे आ जाने से मौत हो गयी.वह कुचला गया बस के नीच...
    दिसंबर 1, 2018 कमल पंत
  • फर्जी खबरों का मकडजाल और पत्रकारिता भाग 4

    वैसे तो रोज ही फर्जी ख़बरें अपनी जगह बना लेती हैं लेकिन 26 जनवरी के मद्देनजर कुछ फर्जी ख़बरें बहुत जरूरी हो जाती हैं जिन्हें जानना बेहद जरूरी है. क्योंक...
    दिसंबर 1, 2018 कमल पंत
  • ब्रूस ली 11 सेकंड म्ह कर दिया करे था चित,पढ़े कई कसुते फैक्ट

    ब्रूस ली इसा मानस था जिसके चर्चे पूरी दुनिया में हॉवे सै. सिर्फ 1 इंच दूर तै भी मुक्का मार के आदमी नै चित कर देन आले ब्रूस ली नै हरियाणा आले भी घन्ना ...
    नवंबर 30, 2018 ओये बांगड़ू
  • रामदेव से पहले स्वदेसी अलापने वाले राजीव दीक्षित का सच

    आज ही के दिन जन्म और मरण का वरण करने वाले सो कॉल्ड स्वदेशी के जनक राजीव दीक्षित ने कई लोगों के दिमाग पर स्वदेशी के नाम पर राज किया। वह कहते हैं न देशभ...
    नवंबर 30, 2018 ओये बांगड़ू
  • आइसक्रीम

    बस एक कोन वाली आईस्क्रीम खानी थी उसे, लेकिन साथ खड़े महाशय बार बार मना कर रहे थे, आखिर सर्दियां शुरू हो गयी थी , जुकाम लगा था और मोहतरमा जिद पर अड़ी थी ...
    नवंबर 30, 2018 ओये बांगड़ू
  • अनदेखी का शिकार देश के अन्नदाता आज संसद के सामने

    दिल्ली में आये किसानों को सबसे ज्यादा कवरेज सोशल मीडिया का एफबीलाईव दे रहा है। बाकी टीवी चैनल ने जितनी कवरेज बाबा रामरहीम की गिरफ्तारी को दी थी उसकी ए...
    नवंबर 30, 2018 ओये बांगड़ू
  • अब लीजिये ऑडियो का मजा ओयेबांगडू पर

    http://www.oyebangdu.com/wp-content/uploads/2018/11/Shaktimaan-416450.mp3 अभी अभी हम बाग़डूओं ने अपनी वेबसाईट पर ऑडियो फार्मेट डालने का प्लान बनाया.बस ...
    नवंबर 29, 2018 कमल पंत
  • 2.0 फिल्म रिव्यू : बड़ी सी चिड़िया,भूत और रजनीकांत

    द रजनीकांत, अक्षय कुमार, एमी जेक्शन अभिनीत 2.0 का लम्बे समय से दर्शकों को इंतजार था। आखिर इतने लंबे समय से इस साइन्स फिक्शन(सो कॉल्ड) फ़िल्म के बारे मे...
    नवंबर 29, 2018 ओये बांगड़ू
  • दिल्ली पहुंचे हज़ारों अन्नदाताओं के किसान मुक्ति मार्च का कारण

    दिल्ली में किसानों का जमावड़ा लग चुका है और अपने 2 दिनी प्रदर्शन में किसान जगह जगह से पहुंचने लगे हैं। वैसे लगता है इस बार सरकार ने 2 अक्टूबर के बाद से...
    नवंबर 29, 2018 ओये बांगड़ू
  • फर्जी खबरों का मकडजाल और पत्रकारिता भाग 3

    अभी कुछ दिन पहले एक सरफिरे ने एक मुस्लिम व्यक्ति को मार डाला,और उसका वीडियो बनाकर बकायदा सोशल मीडिया में अपलोड भी किया,वो जैसे ही वाईरल होने लगा,संस्थ...
    नवंबर 28, 2018 कमल पंत
  • बेरोजगारी का आलम प्रादेशिक सेना तक मे हजारों की भीड़

    प्रादेशिक सेना अर्थात टेरिटोरियल आर्मी, है क्या यह? असल मे उत्तराखण्ड के अखबारों में आजकल टेरियोरियल आर्मी की भर्ती की खबरें बड़े जोर शोर से छप रही हैं...
    नवंबर 28, 2018 ओये बांगड़ू
  • ओपन लेटर टू रामभक्त

    प्रिय राम भक्तों, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कह रहे हैं कि हमारा बस चलता तो हम राम मंदिर बना चुके होते। बहुत शानदार बयान है लेकिन क्या आप जान...
    नवंबर 27, 2018 ओये बांगड़ू
  • हरिवंश राय बच्चन – जीवन की आपाधापी में

    शब्दों के जरिए दुनियां को जीवन के कई रहस्य समझाने वाले महान लेखक हरिवंश राय बच्चन का आज जन्मदिन है. आजादी के बाद हिंदी साहित्य को एक अहम जगह दिलाने वा...
    नवंबर 27, 2018 ओये बांगड़ू
  • फर्जी खबरों का मकडजाल और पत्रकारिता भाग 2

    एक उदाहरण के रूप में 2016 का एक केस बहुत लोकप्रिय है. जब एक वेबसाईट ने 2000 के नोट के अंदर चिप और ट्रेकिंग डिवाईस होने की बात अपनी साईट में पब्लिश कर ...
    नवंबर 24, 2018 कमल पंत
  • फर्जी खबरों का मकडजाल और पत्रकारिता

    फर्जी खबरों की डिजिटल में एक अलग वेल्यू हो गयी है ये बहुत तरीके से काम आती है,न्यूज वेबसाईट्स जहाँ अपने बिजनेस (व्यूवर्स) को बढाने के लिए इसकी मदद लेत...
    नवंबर 21, 2018 कमल पंत
  • शौचालय पुरुष दिवस की बधाई

    त्रिनिनाद में 19 नवम्बर 1999 को ऐसा कुछ हुआ कि आज का भारत का पुरूष गर्व से सर उठाकर कह सकता है कि उसके लिए भी एक् दिन निर्धारित है। हालांकि ये दि...
    नवंबर 19, 2018 ओये बांगड़ू
  • ये खत कुछ कहते हैं

    हिमालय के दो विभन्न घरों के दो साधारण पुरुषों की दिनचर्यायों में तुलना की गयी है, पुराने ज़माने में और आज के समय में. अभिजीत कालाकोटी मीडिया के छात्र ह...
    अक्टूबर 22, 2018 ओये बांगड़ू
  • रिस्की डोयाट -घुम्मकड़ी की कहानी 2

    इस घुम्मकडी की आधिकारिक शुरुवात तो वैसे उत्तराखंड के अल्मोड़ा से मानी जा सकती है, लेकिन अल्मोड़ा तक पहुँचने में भी एक खूबसूरत सफर के साथी बन गए थे हम ती...
    सितंबर 27, 2018 कमल पंत
  • देश के लिए मरना ? क्यों ? जीना क्यों नही ?

    हो सकता है आपको लगता हो कि मसला बड़ा आसान है मगर हुजूर इस मसले में एक पूरे इंसान की जान है, जी जनाब पिछले दिनों बार्डर पर एक फ़ौजी की दुखद मृत्यू का समा...
    सितंबर 26, 2018 ओये बांगड़ू
  • मैं समोसा

    डा.कुसुम जोशी सामन्य तौर पर ओएबांगडू पर अपनी कहानियों को लेकर चर्चित रही हैं,समोसे पर उनकी यह कहानी मैं समोसा डाक्टर कुसुम जोशी मैं समोसा जिसके मुख चढ़...
    सितंबर 26, 2018 ओये बांगड़ू
  • इतना भोला समाज है

    कभी कभी असली बांगडू भी लिख देते हैं कुछ हमारे समाज के लोग बहुत भोले हैं, खासकर कथित उच्च वर्ग। व्हाट्सअप फेसबुक पर लगातार दलितों से जुड़े मेसेज आ रहे ह...
    सितंबर 22, 2018 ओये बांगड़ू
  • अखंड भारत अटल भाजपा

    विनोद पन्त ‘खन्तोली ‘ जो हैं हमारे जबर्दस्त लेखक हैं,खतरनाक ही लिख मारते हैं कभी कभी व्यंगकार विनोद पन्त नया नारा आया है मार्किट म...
    सितंबर 22, 2018 ओये बांगड़ू
  • क्यों छूट जाते हैं तराई के मुद्दे? भाग- 1

    प्रेरणांशु के सम्पादक रुपेश कुमार सिंह उत्तराखंड आँदोलन को करीब से देखने वाले लोगों में हैं. वर्तमान में उत्तराखंड के विकास में तराई क्षेत्र की भूमिक...
    जुलाई 18, 2018 ओये बांगड़ू
  • काले तिल वाली लड़की

    कल तुम जिससे मिलीं फोन आया था वहाँ से तुम तिल भूल आयी हो सुनो लडकियों ये तिल बहुत आवारा होते हैं चन्द्र ग्रहण की तरह काला तिल आनाज नही होता ये पूरी दु...
    अप्रैल 10, 2018 ओये बांगड़ू
  • वो निश्छल हंसी

    सर्दियों की बारिश थी वो,जब ठंड में सिकुड़ते हुए उसे करोल बाग़ के मेट्रो पीलर के नीचे खड़े देखा था,स्वेटर भीग चुकी थी,और होंठ एक दुसरे से मिलते बिछुड़ते रह...
    अप्रैल 8, 2018 कमल पंत
  • होली पर विशेष-खन्तोली की होली-4

    पहाड़ों में होली सिर्फ रंग लगाकर नहीं मनाई जाती,पहाड़ों में होली गाकर मनाई जाती है,यहाँ होली सिर्फ एक दिन नहीं होती बल्कि पूरे फागुन के महीने में होती ह...
    फरवरी 25, 2018 ओये बांगड़ू
  • झन्न गुरु के कारनामे -3

    झन्न गुरु अपने झन्नाटेदार थप्पड़ों के लिए तो प्रसिद्ध थे ही साथ ही अपने उग्र क्रांतीकारी विचारों के लिए भी वह खूब जाने जाते थे.मोहल्ले के मोहल्ले (अपने...
    फरवरी 23, 2018 कमल पंत
  • झन्न गुरु के कारनामे -2

    झन्न गुरु थोड़ा दुनिया से अलग थे, एसा उनके पैदा होते ही चिन्ह देखने वाले ज्योतिषी ने कह दिया था,उनके पैदा होने के ग्यारहवें दिन उनका नाम रखा गया जनार्द...
    फरवरी 17, 2018 कमल पंत