ओए न्यूज़

बैटरी देवी की व्यथा

अक्टूबर 8, 2016 ओये बांगड़ू

सुन रे सारे मोबाइल के स्वामियो! हमारे एक साथी हैं चंद्रशेखर, मुम्बई से हैं! उन्होने हमारे और आपके लिए लिए कुछ लिखा है! यहाँ ‘हमारे और आपसे मतलब है’ कि हमारे और आपके मोबाइल! क्योंकि हम क्योंकि आजकल हम मोबाइल बिना अधूरे हैं, संडास भी जाते हैं तब भी मोबाइल के साथ! यहाँ उन्होने मोबाइल बैटरी के दर्द को चिट्ठी का रूप भी दिया है-

हे मोबाइल के स्वामी , मैं बैटरी देवी आपके मेरे प्रति लापरवाही को लेकर बहुत दुखी हूं. आप मेरे साथ बहुत उग्र तरीके से पेश आते हैं , मेरा शोषण करते हैं उसके बाद सारा दोष भी मुझे ही देते हैं कि बैटरी बहुत जल्दी फुस्स हो जाती है.
आप अपने इस स्मार्ट फोन को तो बड़ी अहमियत देते हैं. इसकी सुरक्षा के लिए हर संभव उपाय करते हैं , इसको बड़ी हिफाजत से रखते हैं मगर कभी मेरे में सोचा आपने कि मैं कितना दर्द बर्दाश्त करती हूं , तुम्हारे फोन की मल्टी टास्किंग से मेरा बदन जलने लगता है मगर आप देखकर भी अनदेखा कर देते हैं. मेरी आपसे हाथ जोड़कर विनती है कि आप जितनी अहमियत अपने स्मार्ट फोन को देते हैं उतनी अहमियत मुझे भी दें तब में बहुत अच्छी तरह से आपका साथ दे पाऊंगी.

आप मुझे बार बार चार्जिंग पर लगाते हैं. आप ऐसा हरगिज न करें क्यूकिं इससे मेरी लाइफ साइकिल प्रभावित होती है. हो सके तो फोन को पूरी तरह चार्ज होने के बाद ही चार्जिंग से निकालें. आधे से ज्यादा खत्म होने के बाद ही चार्जिंग पर लगायें. दुनियां भर के अलग अलग और नकली चार्जर मेरे अंदर घुसेड़ कर आप अनियमितता वाले वोल्टेज को मेरे अंदर प्रवाहित करते हैं उससे मेरा स्वास्थ्य बहुत प्रभावित होता है. अलग अलग कंपनी के चार्जर इस्तेमाल कर के आप मेरी जिंदगी के साथ खेलते हैं. आप फोन को चार्जिंग पर लगाकर फोन का इस्तेमाल कर रहे होते हैं इससे मेरे शरीर का तापमान बहुत बढ़ जाता है और में फटने की स्तिथि में आ जाती हूं. कई बार आप फोन चार्जिंग पर होने के दौरान फोन पर बात भी करते हैं ध्यान रखें ऐसा करने से मैं बिस्फोट भी कर सकती हूं. ये वो सारी बातें हैं जो आपको नहीं करनी चाहिये जो मुझे तकलीफ देती हैं. इन बातों की वजह से मेरा स्वास्थ्य और जीवन प्रभावित होता है.

इसलिये हे स्वामी आप मुझे दोष देने की जगह अपनी आदतें सुधारें और मेरे साथ ऐसा हिंसक व्यवहार न करें. आप मेरी हिफाजत करेंगे तो में आपकी हिफाजत करूंगी.
धन्यवाद

आपकी
बैटरी देवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *