गंभीर अड्डा

रावण जलते देखा तो होगा अपशकुन

अक्टूबर 11, 2016 ओये बांगड़ू

दशहरा पर रावण के जलने पर देशभर में लोग ख़ुशी से ताली पीटने लगते है और कान फोडू पटाखा फोड़ के बुराई पर अच्छाई की जीत का खूब जश्न मनाते है. लेकिन दिल्ली में ऐसे लोग भी है जो रावण जलने पर दुखी हो जाते है . रावण कई महीनो तक इन्ही लोगो के घरो में रहता है . उसे सजाने सँवारने से लेकर रावण को हंसाने तक में यह लोग खूब मेहनत करते है .

दिल्ली के तितारपुर इलाके में लोग रावण को अलग – अलग रूपों में ढालते है. लोगो के मन मुताबिक उनके विलन और अपने हीरो के पुतले बनाते है. तितारपुर के लोगो को उनकी रोज़ी रोटी देने वाला रावण किसी भगवान से कम नही लगता . महीनों मेहनत कर रावण के पुतलो से हो जानी वाली अटैचमेंट इन कलाकारों को रावण जलते हुए नही देखने देती. यही कारण है की यहाँ के लोग दशहरा देखने नही जाते और रावण को जलते हुए देखना तक भी अपशकुन मानते है .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *