गंभीर अड्डा

मरीना बीच पर होगी करुणानिधि की करुण विदाई

अगस्त 8, 2018 ओये बांगड़ू

साउथ की राजनीति का जिक्र आते ही एक तस्वीर आँखों के सामने आ जाती है, काला चश्मा, सफ़ेद कपड़े और पीला शाँल ओढ़े एक शख्स यानि एम. करुणानिधि. यह वो ही शख्स है जिसने 60  साल तक दक्षिण की राजनीति में अहम भूमिका निभाई. मंगलवार शाम तमिलनाडु की राजनीति का यह दूसरा युग समाप्त हो गया. डीएमके नेता एम करुणानिधि का 94 साल की उम्र में देहांत हो गया.

 

करुणानिधि के निधन के साथ ही तमिलनाडु समेत पूरे देश में शोक की लहर है. राज्य में एक दिन का अवकाश और सात दिन का शोक घोषित किया गया है. करुणानिधि के निधन के बाद उनको दफनाने को लेकर भी विवाद हुआ. करुणानिधि की पार्टी और उनके समर्थकों ने उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाए जाने और उनका समाधि स्थल भी वहीं बनाने की मांग करी लेकिन तमिलनाडु सरकार ने ऐसा करने से इनकार कर दिया. जिसके बाद आज मद्रास उच्च न्यायालय ने बुधवार को दिवंगत द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता व तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाए जाने की अनुमति दे दी है.

तमिलनाडु के मरीना बीच पर दफन होने वाले सबसे पहले नेता सीएन अन्नादुरई थे. कान्जीवरम नटराजन अन्नादुराई की मौत 3 फ़रवरी, 1969 को हुई थी. अपनी मौत के समय अन्नादुराई तमिलनाडु के सीएम थे. सी. एन. अन्नादुराई तमिलनाडु के लोकप्रिय नेता, भारत के प्रथम गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री एवं ‘द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम'(डीएमके) पार्टी के संस्थापक थे. साथ ही वह DMK प्रमुख एम. करुणानिधि के राजनीतिक गुरु भी थे.

तमिलनाडु में डीएमके समर्थक रोते-बिलखते नजर आ रहे हैं। इस बीच उनके पार्थिव शरीर को श्रद्धांजलि देने के लिए हजारों की संख्या में नेतागण व समर्थक चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंच रहे हैं। हालांकि राजाजी हॉल के बाहर इकट्ठा समर्थकों को काबू में करना मुश्किल हो गया है, जिस कारण पुलिस को लाठी चार्ज का सहारा लेना पड़ा।

6 बार मुख्यमंत्री रहे एम करुणानिधि ने अपने 60 साल के राजनीतिक करियर में कभी हार का मुंह नहीं देखा. करुणानिधि 12 बार विधयाक बने. करुणानिधि  2006 में आखिरी बार मुख्यमंत्री बने थे. राजनीति में आने से पहले करुणानिधि पत्रकार और फ़िल्मी दुनियां से जुड़े थे. करुणानिधि ने कई बेहतरीन फ़िल्में लिखी. उनको फिल्म एक्टर एम. आर. राधा ने कलिंगर का नाम भी दिया.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *