गंभीर अड्डा

 
  • जलती चिताओं के बीच नगरवधुओं ने किया नृत्य

    विश्व के प्राचीनतम शहर बनारस को जिंदा शहर कहा जाता है। परंपराओं के बंधन से सजा हुआ यह बनारस आज भी अपने साथ सैकड़ों साल पुराने मान्यताओं और परंपराओं को ...
    अप्रैल 4, 2017 ओये बांगड़ू
  • निगम के नियमों में संशोधन जरुरी – संजय गुप्ता

    दिल्ली की जनता की मुलभुत सुविधाओं से जुड़े नगर निगम के चुनाव का विगुल बज चूका हैं और हर पार्टी जोरों शोरों से चुनावी तैयारियों में लग गयी हैं. लेकिन इन...
    अप्रैल 4, 2017 ओये बांगड़ू
  • सिस्टम ऐसा हो कि लोगों को परेशानी न हो

    विकास की परिभाषा क्या होती है ?  बड़ी बड़ी बिल्डिंगें ,शापिंग माल ,पुरानी दुकानों की जगह नयी दुकानें ?  क्या ये सब विकास की परिभाषा के अन्दर आता है ? शा...
    अप्रैल 2, 2017 ओये बांगड़ू
  • अब तो भगवान ना मानो नेताओं को

    कुछ सौ दो सौ तीन सौ साल पुरानी बात रही होगी जब भारत में एक अलग तरह का राज चला करता था, एक कम्पनी थी जिसकी मालकिन बैठी रहती थी लंदन में और ब्रांच थी इण...
    मार्च 30, 2017 कमल पंत
  • सेफ्टी या गुंडागिरी का लाईसेंस !-एंटी रोमियो

    अभी यूपी में एंटी रोमियो स्क्वाड शुरू की है, मनचलों ,छेड़खानी करने वाले आवारा टाईप के लड़कों से लड़कियों को सुरक्षा देने के लिए. असल में ये लौंडे लफाड़े ल...
    मार्च 29, 2017 कमल पंत
  • राजनीति गैरसैंण वाली

    वैसे तो पहाड़ की टिकडी में तैनात चाय की टपरियो में हवा हमेशा तेज ही चलती है लेकिन इससे भी तेज चलने वाली एक और चीज यहां चलती है वो है गप्प. वैसे सभी गप...
    मार्च 25, 2017 Girish Lohni
  • उम्मीदों वाला शौचालय

    समाज में सभ्य लोगों मे शायद ही ऐसा कोई सभ्य रहा हो जिसने कभी जीवन में जोर की टायलेट लगने वाली समस्या का सामना ना किया हो. शायद ही सार्वजनिक स्थानों पर...
    मार्च 25, 2017 Girish Lohni
  • पानी के आ जाने से मिली बड़ी ख़ुशी

    खुशियाँ बड़ी छोटी होती हैं, कई बार हम महसूस कर पायें उससे पहले ही हाथों से निकल जाती हैं. और कई बार हम उन्हें छोटा मान कर निकल जाने देते हैं. जैसे आपके...
    मार्च 19, 2017 ओये बांगड़ू
  • पहाड़ खाते मैदान

    पहाड़ी अस्मिता को बचाने की लम्बी लड़ाई लड़ने के बाद सन्‌ 2000 में हमें मिला उत्तरांचल. हम छोटे थे तो अलग राज्य के मायनो का अंदाजा न था. हम तो इस में ख़...
    मार्च 18, 2017 Girish Lohni
  • लोकतंत्र का शोकगीत, ‘थैंक्स फॉर 90 वोट्स’

    अफ्स्पा (सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून) को लेकर 16 वर्षों तक अनशन करने वाली इरोम शर्मिला वैसे ही हार गई हैं, जैसे मणिपुर में मनोरमा हार गई थी, जैसे मनो...
    मार्च 13, 2017 ओये बांगड़ू
  • फेसबुक से पहले से प्रसिद्ध हैं ये बाबा

    सन 2001 की बात है, मैं पिथोरागढ़ से हल्द्वानी की तरफ आ रहा था, कैंची धाम के पास में केमू(कुमाऊँ की बस सर्विस, फुल फ़ार्म अभी याद नहीं आ रही) की बस का टा...
    मार्च 6, 2017 कमल पंत
  • भैय्ये जमा जितनी चाहे उतनी बार,निकालने के लिए बस चार बार

    पहले हम पैसों को बैंक में कम रखते थे, तो बैंक की जरूरत,बैंक के फायदे बता बता कर हमें बैंकिंग की तरफ धकेला गया. बैंक पैसे जमा करने पर ब्याज देता था , ब...
    मार्च 4, 2017 ओये बांगड़ू
  • आउटसाइडर की देन है डीयू विवाद

    मुस्कुराने की वजह फिलहाल आजकल के माहौल में मिलना थोड़ा मुश्किल है. लेकिन फिर भी मुस्कुराइए क्योंकि आप अब तक बचे हुए हैं. फिलहाल सीधी सीधी लड़ाई कालेज के...
    मार्च 3, 2017 कमल पंत
  • सहवाग हम शर्मिंदा हैं

    प्रिय सहवाग सुनने में आया है कि अब आप कह रहे हैं कि आपके कहने का वो मतलब नहीं था, सहवाग के कहने का जो भी मतलब रहा हो, मगर आपने एक हिम्मती लड़की का हौंस...
    मार्च 1, 2017 ओये बांगड़ू
  • हंगामा क्यों बरपाया था ?

    चंकी महाराज भटकने में इतने माहिर हैं कि कहीं का कहीं निकल लेते हैं, पिछले दिनों एफबी लाईव में चुनाव प्रचार देखते देखते डीयू पहुँच गए. हुआ यूं कि बड़के ...
    फरवरी 25, 2017 ओये बांगड़ू
  • कैशलेस इकॉनॉमी का नया भूत

    कैशलेस इकॉनॉमी का नया भूत भारत की केंद्रीय सरकार के सर चढ़ कर बोल रहा हैं. क्या वास्तव मे भारत इस परिवर्तन के लिये तैयार है? क्या वास्तव मे केवल आशा और...
    फरवरी 23, 2017 Girish Lohni
  • सिगरेट नहीं सांस लेना ले रहा लोगों की जान

    आपने किसी बीमारी या सिगरेट शराब जैसी लत की वजह से तो लोगों की मौत की खबरे खूब सुनी होंगी लेकिन अब देश में हालात कुछ ऐसे हो चले है कि सांस लेने की वजह ...
    फरवरी 19, 2017 ओये बांगड़ू
  • जड़ों से जुड़ा है यह वैज्ञानिक

    क्रिएटिव उत्तराखंड से जुड़े हेम पन्त ने हमें बताया कि पहाड़ों की प्रतिभा अमेरिका तक अपना झंडा गाड़े हुए है. उनके द्वारा लिखा गया ये लेख बहुत से लोगों को ...
    फरवरी 15, 2017 ओये बांगड़ू
  • उत्तराखंड के नेताओं के नाम खुला खत

    वैसे ये ख़त एक आद दिन पहले आता तो अच्छा था लेकिन अब भी कुछ नहीं बिगड़ा है, नेता चाहे भाजपा को चाहे कान्ग्रेस का चाहे यूकेडी का चाहे निर्दलीय उसने उत्तरा...
    फरवरी 14, 2017 ओये बांगड़ू
  • 310 साल के हो गए ब्रजप्रदेश के बाहुबली सूरजमल

    ये एतिहासिक कहानी हमें केडी चारण ने जोधपुर से भेजी है, इतिहास की जानकारी के साथ लिखी गयी कहानी में वहां के राजा सूरजमल के बारे में बताया गया है . 13 फ...
    फरवरी 13, 2017 ओये बांगड़ू
  • चार हजार करोड़ पड़े पड़े सड गए केंद्र में -मोदी

    कल फेसबुक लाईव पर चंकी महाराज मोदी जी को लाईव देख और सुन रहे थे, बड़ा मजा आ रहा था, देश के प्रधानमंत्री उत्तराखंड विधानसभा की एक सीट पर एक प्रत्याशी के...
    फरवरी 13, 2017 ओये बांगड़ू
  • पलायन नहीं तो क्या करेंगे ?

    आज उत्तराखंड के गाँव पर बनी एक रिपोर्ट देख कर ये ख्याल आया कि इस विषय पर कुछ लिखा जाए. ये पूरी तरह संस्मरण है, यादों पर आधारित. लेकिन समझने का प्रयास ...
    फरवरी 10, 2017 कमल पंत
  • 50 पार के युवाओं का देश

    अपने देश में युवा शब्द का इस्तेमाल खूब होता हैं. कुछ तो अपनी ज़िन्दगी की हाफ सेंचुरी पूरी करने के बाद भी युवा बने रहते है. ऐसे में देश के हालात पर और इ...
    फरवरी 8, 2017 ओये बांगड़ू
  • विवाह -एक सामाजिक सेक्स लाईसेन्स

    वैवाहिक जीवन पर गिरीश लोहनी बता रहे हैं क्या है असल में व्यवहारिक शादी हाल ही में भारतीय सुप्रीम कोर्ट ने वैवाहिक जीवन में सेक्स के लिए मना करने के आ...
    फरवरी 7, 2017 ओये बांगड़ू
  • भाजपा उत्तराखंड में पहले इनका जवाब दे

    गिरीश लोहनी कर रहे हैं भाजपा की मजबूरियों पर गंभीर चर्चा 2014 के आम चुनाव में उत्तराखंड की जनता ने क्लीन स्वीप के साथ सभी सीटें भाजपा को समर्पित की. ...
    फरवरी 6, 2017 ओये बांगड़ू
  • कथक के दीप जलाते बिरजू महाराज को जन्मदिन मुबारक

    कथक का नाम आते ही पंडित बिरजू महाराज का नाम याद आ जाता है. आज ही के दिन पद्मविभूषण से सम्मानित पंडित बिरजू महाराज का आज जन्मदिन हैं. पिछले कई दशकों से...
    फरवरी 4, 2017 ओये बांगड़ू
  • खुशवंत जिन्दादिली का जीवंत उदाहरण

    चंकी महाराज आज खुशवंत सिंह पर कुछ लिख रहे हैं,ऊपर वाले रक्षा करना खुल कर बोलने लिखने वाले , समाज की छिपी परतों को उजागर करने वाले , एक अलग किस्म के प...
    फरवरी 2, 2017 ओये बांगड़ू
  • संस्मरण – ‘वो हवाई जहाज ‘

    डाक्टर ईशान पुरोहित देश विदेश में व्यख्यान देते हैं,आई आई टी समेत कई नामी संस्थानों में छात्रों का मार्गदर्शन कर रहे डाक्टर पुरोहित एक लम्बे संघर्ष के...
    फरवरी 1, 2017 ओये बांगड़ू
  • ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ यूँ सफल होगा

    ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ तभी सफल हो सकता है जब इस समाज में बेटियों का दहेज़ की आग में जलना बंद होगा. जब लड़कियां दहेज़ का विरोध करने की शपथ लेंगी उस दिन वो ...
    जनवरी 31, 2017 ओये बांगड़ू
  • गोडसे – बस एक हत्यारा और कुछ नहीं

    आज से करीब 69 साल पहले नई दिल्ली में एक 78 साल के बुजुर्ग की गोली मार कर ह्त्या कर दी गयी. ह्त्या की वजह जो बताई गयी वह बहुत हास्यास्पद थी. ह्त्या की ...
    जनवरी 30, 2017 ओये बांगड़ू
  • लैला मजनू के बाद देखिये आशिक माशूक की मजार

    बनारस से फैज की यह रिपोर्ट लैला मजनू वाली रिपोर्ट के बाद आयी , उन्होंने बताया कि जैसे लैला मजनू की मजार है ठीक वैसे ही बनारस में आशिक माशूक की मजार है...
    जनवरी 28, 2017 ओये बांगड़ू
  • 26 जनवरी: भारत के संविधान के बारे में खास

    26 जनवरी का दिन अपने आप में खास है. आज ही के दिन 2 साल 11 महीने, 18 दिन की मेहनत करने के बाद सबसे बड़ा भारतीय इतिहास अस्तित्व में आया था. डॉ.भीमराव अम्...
    जनवरी 26, 2017 ओये बांगड़ू
  • पद्म को मना कर दिया,ये हैं रियल लाईफ हीरो

    ‘मुझे ग्रेडिंग सिस्टम से प्रोब्लम है ए ग्रेड सिस्टम बादशाह सी ग्रेड स्टूडेंट गुलाम ‘ थ्री इडियट आमिर खान थ्री इडियट फिल्म में . &a...
    जनवरी 25, 2017 ओये बांगड़ू
  • ऐसे थे सुभाष चन्द्र बोस

    अपने नारे से भारतीयों के बीच आज़ादी की अलख जगाने वाले सुभाष चन्द्र बॉस की आज 120 वीं जयंती है. ‘तुम मुझे खून दो , मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा’ वो नारा था ज...
    जनवरी 23, 2017 सुचित्रा दलाल
  • क्या धार्मिक ध्वज जरूरी हैं ?

    पहाड़ों में एक निशान होता है जो प्रतीक होता है धार्मिक कार्यों का, किसी पूजा में, जागर में, शादी में , नामकरण में अक्सर एक डंडे के सहारे निशान को बांधा...
    जनवरी 23, 2017 कमल पंत
  • जलिकट्ट दोबारा शुरू होगी ?

    जलिकट्ट के बारे में आप आजकल समाचारों और अखबारों में पढ़ रहे होंगे. सुप्रीम कोर्ट में चल रही इसकी लड़ाई शायद कोइ नया मोड़ नहीं लेगी. सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ ...
    जनवरी 20, 2017 कमल पंत
  • अब मनचलों को मुहतोड़ जवाब देंगी छोरियां

    देश में आए दिन होने वाले छेड़ छाड़ के मामलों के बीच, आत्मनिर्भर और आत्मविश्वास के साथ जीने के लिए आत्मरक्षा के गुर सीखना हर महिला के लिए जरुरी हो चला है...
    जनवरी 20, 2017 ओये बांगड़ू
  • लिखता फेसबुक भुगतता मीडिया

    फेसबुकिया समाज ने फिर से कोइ लडाई शुरु कर दी होगी और आज के टापिक में कोइ ना कोइ मोदी राहुल हिन्दू मुस्लिम से जुड़ा मुद्दा जरूर होगा.हम अलग अलग विषयों प...
    जनवरी 19, 2017 कमल पंत
  • देश में कम्पनी के बंदे लड़ें चुनाव

    चौक चौराहे पर हर किसी से ज्ञान लेने वाले चंकी महाराज ने ये ज्ञान पता नहीं कहाँ से बटोरा है. झेल लो . किसी बुड्ढे ने कुछ कह दिया इनसे तो इमोशनल होकर पू...
    जनवरी 17, 2017 ओये बांगड़ू
  • फेमिनिज्म बना मजाक

    आक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढी पूजा इन्द्रजीत शाह हिन्दी में थोड़ी कमजोर हैं, ये हिन्दी में उनका पहला प्रयास है. मातृभाषा में लिखने की ललक ने उन्हें हिन्...
    जनवरी 17, 2017 ओये बांगड़ू
  • अपनी पहचान को तरसता उत्तराखंड

    उत्तराखंड में चुनाव हैं डेढ़ दो महीने में , 11 मार्च को पता चल जायेगा कि राज्य को नोचने के लिए कौनसी सरकार आ रही है. राज्य गठन के बाद राज्य में सिवाय ह...
    जनवरी 12, 2017 ओये बांगड़ू
  • राजस्थान में बाल विवाहों की ‘जय-जय’

    पेशे से कवि, लेखक, पत्रकार और प्रेस सलाहकार अमित बैजनाथ गर्ग पिंक सिटी जयपुर में रहते है. इनकी एजुकेशन क्वालिफिकेशन में डिग्रियों की लिस्ट इतनी लम्बी...
    जनवरी 7, 2017 ओये बांगड़ू
  • धारा 377 : कोर्ट, संसद और नजरिया

    लेखक-अमित बैजनाथ गर्ग पेशे से कवि, लेखक, पत्रकार और प्रेस सलाहकार अमित बैजनाथ गर्ग पिंक सिटी जयपुर में रहते है. इनकी एजुकेशन क्वालिफिकेशन में डिग्रिय...
    जनवरी 4, 2017 ओये बांगड़ू
  • नोट्बंद के कारण चूल्हा बंद

    काशीपुर के राजू कुमार पेशे से सिविल इंजीनियर हैं, नोटबंदी पर उनकी ये कहानी एक सच्ची घटना का संस्मरण स्वरूप है . सरकार की नोटबंदी से सबसे ज्यादा नुक्स...
    जनवरी 3, 2017 ओये बांगड़ू
  • बधाई हो ! हम वापस रेडिओ काल में जा रहे हैं

    ये सफर थोड़ा अलग है, ये सफर रेडियो से शुरू होकर मोबाईल तक जाता है, ये सफर सामाजिक पंचायत से एकल पंचायत तक जाता है , ये सफर एक पूरी पीढी के खत्म होने का...
    दिसंबर 30, 2016 कमल पंत
  • 1 2 3 4 5 19