गंभीर अड्डा

 
  • सफेदी की चमक ‘नील’ विश्व को भारत की देन

    सफेदी को चमक देने का आविष्कार कही विदेश में नहीं बल्कि भारत में हुआ था. भारत ही वो देश है जिसने दुनियां को सफ़ेद कपड़ों पीला पड़ने से बचाने का फ़ॉर्मूला द...
    नवंबर 4, 2018 ओये बांगड़ू
  • इंदिरा गाँधी की पुण्यतिथि : 34 साल पहले देश ने ‘आयरन लेडी’ को खो दिया

    आज ही के दिन साल 1984 में देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की मौत की खबर ने देश को हिला दिया था. आज ‘आयरन लेडी’ कही जाने वाली इंदिरा गाँधी ...
    अक्टूबर 31, 2018 ओये बांगड़ू
  • सरकार क्या है?

    सांसद विधायक से मिलकर बनी सरकार ही क्या सरकार है? नही, सरकारी महकमे के हर विभाग का हर आदमी जो भारत सरकार की उस आमदनी से तनख्वाह पा रहा है जो उसे आम आद...
    अक्टूबर 29, 2018 ओये बांगड़ू
  • महाराष्ट्र में लागू मगर केरला में भागू क्यों ?

    अमित शाह ने केरला के सबरीमाला वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट को कहा कि सर जी ,ऐसे फैसले दो जो लागू किये जा सकें। केरला में वैसे भाजपा की कोई खास पकड़ नही...
    अक्टूबर 28, 2018 ओये बांगड़ू
  • जनता जो पढ़ती है हम वो पढ़ाते हैं vs जो हम पढ़ायें जनता वो पढ़े

    पाठक जो पढ़ रहे हैं हम वह पढ़ा रहे हैं इस भावना के साथ अधिकतर अख़बार बस जनभावना को ध्यान में रखते हुए,करवाचौथ मनाने के दस तरीके,दिन भर में ये न करें,ये क...
    अक्टूबर 27, 2018 कमल पंत
  • राजस्थान में भूतों का सामना करने वाले परिवार की आपबीती !

    भारत विभिन्न परंपराओं और प्रथाओं वाला देश है. भारत का इतिहास भी बेहद पुराना है और उसी इतिहास में कई ऐसी जगहों का जिक्र है जहाँ लोगों ने पैरानॉर्मल ऐक्...
    अक्टूबर 26, 2018 ओये बांगड़ू
  • पाब्लो-जिसकी रियल लाईफ को बालीवुड ने भुनाया

    रईस का शाहरुख़ खान हो,डान का अमिताभ बच्चन या फिर किसी अन्य ड्रग माफिया वाली फिल्म का ड्रग डीलर बालीवुड ने अक्सर ‘पाब्लो एस्कोबार’ स...
    अक्टूबर 25, 2018 कमल पंत
  • ये खत कुछ कहते हैं

    हिमालय के दो विभन्न घरों के दो साधारण पुरुषों की दिनचर्यायों में तुलना की गयी है, पुराने ज़माने में और आज के समय में. अभिजीत कालाकोटी मीडिया के छात्र ह...
    अक्टूबर 22, 2018 ओये बांगड़ू
  • World Food Day- ग्लोबल हंगर इंडेक्स में लगातार पिछड़ता भारत

    भारत में आज़ादी के 7 दशकों बाद भी करोड़ों लोग ऐसे है जिन्हें दो वक़्त की रोटी भी नहीं मिल पाती. एक तरफ लोग खाने को कूड़े में फेंक देते है तो दूसरी तरफ कुछ...
    अक्टूबर 16, 2018 ओये बांगड़ू
  • बिहार से मजदूरों का पलायन बना ट्रेंड

    बिहार के सीवान जिले के राजीव कुमार भारती आजकल पत्रकारिता की पढाई कर रहे हैं और बिहार में ट्रेंड बनते जा रहे पलायन को लेकर चिंतित है. बाहर लात खायेंगे...
    अक्टूबर 12, 2018 ओये बांगड़ू
  • राज बदला तो समाज भी बदला

    सामजिक उथल पुथल एक सामन्य सी बात है,याद रहे मैं राजनितिक उथल के बाद होने वाले सामजिक बदलाव की बात कर रहा हूँ. ये इतना सामन्य है कि अब तक हमें आदत हो ज...
    अक्टूबर 6, 2018 ओये बांगड़ू
  • बहुरूपिया के अलग अलग रूप देखने का मौका

    भारत में एक समय था जब गली गली, गाँव गाँव अजब रूप धारण किए बहरूपिया  घुमा करते थे . कभी कोई रूप डराता था तो कभी हँसता था. अक्सर भगवान के अलग अलग रूप धा...
    अक्टूबर 4, 2018 ओये बांगड़ू
  • बापू के बाद भारत की असल तस्वीर

    महात्मा गांधी के जाने के सालों बाद भी भारत की तस्वीर वैसी नहीं बन पाई जैसी ‘बापू’ ने सोची थी.  वैसे देशवासी शुरू से ही समाजवाद को मानने से इनकार करते ...
    अक्टूबर 2, 2018 ओये बांगड़ू
  • इतना भोला समाज है

    कभी कभी असली बांगडू भी लिख देते हैं कुछ हमारे समाज के लोग बहुत भोले हैं, खासकर कथित उच्च वर्ग। व्हाट्सअप फेसबुक पर लगातार दलितों से जुड़े मेसेज आ रहे ह...
    सितंबर 22, 2018 ओये बांगड़ू
  • मोदी की गलती नही,मार्किट में झोल है

    आज भी आलोचना का ही मन है लेकिन उन टुच्चे सोशल मीडिया मार्केटिंग वालों की आलोचना जो सस्ते प्रचार के कारण कुछ भी लिख डाल देते हैं और बदनाम होते हैं पीए...
    अगस्त 21, 2018 कमल पंत
  • एडजस्ट करने की गुलामी

    चंकी महाराज आज बता रहे है देश के चौथे स्तंंभ कहे जाने वाले मीडिया और देश में हुए या यूँ कहें न हुए बदलाव की दास्ताँ . चंकी महाराज का कहना है कि  &...
    अगस्त 15, 2018 ओये बांगड़ू
  • Independenceday special:  when they chipped off my nails In prison

    पिछले हफ्ते एक चिट्ठी प्राप्त हुई,जिसमे 102 वर्षीय राधा कृष्ण ने उनके साथ हुए चार साल पुराने वादे का जिक्र किया और कहा कि उन्हें अब तक उस इंटरव्यू का ...
    अगस्त 15, 2018 ओये बांगड़ू
  • मरीना बीच पर होगी करुणानिधि की करुण विदाई

    साउथ की राजनीति का जिक्र आते ही एक तस्वीर आँखों के सामने आ जाती है, काला चश्मा, सफ़ेद कपड़े और पीला शाँल ओढ़े एक शख्स यानि एम. करुणानिधि. यह वो ही शख्स ह...
    अगस्त 8, 2018 ओये बांगड़ू
  • मॉब लिंचिंग- अफ़वाहों पर जान से मार देने वाली अंध भीड़

    राइटर-आदित्य सिंह (मीडिया स्टूडेंट ) आज संसद में एक बार फिर से विपक्ष ने मॉब लिंचिंग बड़ा मुद्दा बनाया लेकिन इस गंभीर मुद्दे पर भी राजनीती होते हुए एक...
    जुलाई 24, 2018 ओये बांगड़ू
  • आज़ाद भारत में बटुकेश्वर दत्त को लड़नी पड़ी गरीबी से लडाई

    आज बटुकेश्वर दत्त की  पुण्यतिथि है, वही बटुकेश्वर दत्त जिन्होंने 1929 में अपने साथी भगत सिंह के साथ मिलकर अंग्रेजी सेंट्रल लेजिस्लेटिव एसेम्बली में बम...
    जुलाई 20, 2018 ओये बांगड़ू
  • क्यों छूट जाते हैं तराई के मुद्दे? भाग- 2

    प्रेरणांशु के सम्पादक रुपेश कुमार सिंह उत्तराखंड आँदोलन को करीब से देखने वाले लोगों में हैं. वर्तमान में उत्तराखंड के विकास में तराई क्षेत्र की भूमिका...
    जुलाई 20, 2018 ओये बांगड़ू
  • क्यों छूट जाते हैं तराई के मुद्दे? भाग- 1

    प्रेरणांशु के सम्पादक रुपेश कुमार सिंह उत्तराखंड आँदोलन को करीब से देखने वाले लोगों में हैं. वर्तमान में उत्तराखंड के विकास में तराई क्षेत्र की भूमिक...
    जुलाई 18, 2018 ओये बांगड़ू
  • उत्तराखंड का ओलंपियन फुटबालर “राम बहादुर क्षेत्री “

    1956 के मेलबर्न ओलम्पिक में भारत चौथे स्थान पर रहा था. सभी को उम्मीद थी कि 1960 के रोम ओलम्पिक में भारत जरुर पदक लायेगा. लेकिन भारत को इस ओलम्पिक में ...
    जुलाई 15, 2018 Girish Lohni
  • गारिंचा- ड्रिब्लिंग का बादशाह

    पेले. दी ग्रेट पेले का नाम तो सुना ही होगा. पेले ब्राजील ही नहीं विश्व का अब तक का सबसे महान खिलाडी है. पेले के खेलते हुए ब्राजील 1958, 1962 और 1970 क...
    जुलाई 13, 2018 Girish Lohni
  • भारत में अफवाहों के पीछे दौड़ती भीड़

    यह  आर्टिकल  मीडिया स्टूडेंट आदित्य सिंह ने ओएबांगड़ू के लिए लिखा है   देशभर में ‘बच्चा चोर’ के नाम पर आम लोगों की पीट-पीटकर हत्या ...
    जुलाई 12, 2018 ओये बांगड़ू
  • क्या सच में महिलायें सशक्त हो रही हैं ?

    प्रस्तुत लेख ओयेबांगडू के लिए मोहम्मद सलमान ने लिखकर भेजा है जो एक छात्र हैं  परिदृश्य बदल रहा है। महिलाओं की भागीदारी सभी क्षेत्रों में उल्लेखनीय रूप...
    जुलाई 4, 2018 ओये बांगड़ू
  • कानून नहीं मानसिकता बदलो जनाब

     पूरे देश में वर्तमान सरकार द्वारा बलात्कार संबंधी कानूनी अध्यादेश को सराहा जा रहा है. नये अध्यादेश के लागू होने के पश्चात 12 वर्ष से कम आयु की बच्ची ...
    अप्रैल 23, 2018 Girish Lohni
  • साजिश किसकी है?

    देश में अचानक से मुद्दों की बाढ़ सी आ गयी थी,आवाजें बुलंद हो रही थी जो किसी वजह से कुछ समय के लिए खामोश थी,सरकार लगातार कह रही थी कि ये उसे घेरने की सा...
    अप्रैल 3, 2018 कमल पंत
  • ये थी पहली महिला

    भारत में सबसे पहले स्नातक अर्थात ग्रेजुएशन किसने किया होगा ? खासकर कौन महिला रही होगी जिसने सबसे पहले 15 कक्षा पास की होंगी ? एसे सवाल आपके भी मन में ...
    अप्रैल 2, 2018 कमल पंत
  • इसको अपडेट करने की जरूरत है-ग्रह नक्षत्र

    अंध श्रद्धा किस हद तक की जाए और क्यों की जाए ये बड़ा सवाल है.क्योंकि अक्सर आस्था के अंदर सवाल नहीं पूछे जाते जैसे वाक्य कहकर सवाल करने वालों को रोक दिय...
    मार्च 30, 2018 ओये बांगड़ू
  • उत्तराखंड में सपना है रेल

    उत्तराखंड में कांग्रेस और भाजपा ने जिस रेल के मुद्दे को कब्र में घुसा दिया है उसका रिपोर्ट रुपी भूत लाये हैं राजेंद्र नेगी उर्फ  “राजू पहाड...
    मार्च 26, 2018 ओये बांगड़ू
  • उत्तराखंड बजट और शिशु लिंगानुपात

    शिशु लिंगानुपात 0 से 6 वर्ष की आयु के मध्य प्रति हजार लड़कों में लड़कियों की संख्या दर्शाने वाला एक आकड़ा है। 2011 की जनगणना के अनुसार भारत की सभी 36 प्र...
    जनवरी 24, 2018 Girish Lohni
  • उत्तराखंड बजट और कृषि

    प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी उत्तराखंड का बजट बनाने की तैयारी जोरों पर है. देखना है कि इस बार भी राज्य के लोगों को बनाया जाता है कि राज्य के लोगों ...
    जनवरी 23, 2018 Girish Lohni
  • क्या विलुप्त हो जायेंगी बोलियाँ

    कुछ दिनों पहले की बात है, मैंने एक उत्तराखण्डी ग्रुप में कोई कुमाऊनी चुटकुला पोस्ट किया था। जिसमें एक लड़की का कमेन्ट आया कि उसे कुछ समझ नहीं आया। मैंन...
    जनवरी 10, 2018 ओये बांगड़ू
  • रोते-रोते गुमनाम होती ‘रुदाली’

     पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर व सीमावर्ती क्षेत्रों में सबके लिए रोने वाली रुदालियों का उम्र तय करती है पहनावा, कोई रोज-रोज मरता नहीं,...
    दिसंबर 19, 2017 ओये बांगड़ू
  • सिर्फ एक दिन रेप फ्री इण्डिया ?

    साल के 365 में से एक दिन बलात्कार मुक्त भारत को समर्पित कर देने से क्या देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराध कम हो जायेंगे? 16 दिसंबर के दिन दिल्ली ...
    दिसंबर 18, 2017 कमल पंत
  • वो देख वो थी

    किडनेपिंग, सुपारी किलिंग, ऑनर किलिंग और एसिड अटैक तो सुना ही था लेकिन क्या “अफवाह” भी एक माध्यम हो सकता है महिलाओं के उत्पीड़न औऱ श...
    दिसंबर 14, 2017 ओये बांगड़ू
  • फ्री के कलाकार

    एक कलाकार(थियेटर आर्टिस्ट) की ज़ुबानी उसी की कहानी – ‘कलाकार की सबसे बड़ी मजबूरी है डर,आपके घर अक्वागार्ड वाला आता है न फिटिंग को वो...
    दिसंबर 9, 2017 ओये बांगड़ू
  • सवालों का पुलिंदा है हमारे पास

    मुद्दे इतने हो गए हैं कि क्या याद रखें और क्या भूल जाएँ, हर तरफ एक परेशानी है हर तरफ एक नया पहाड़ खड़ा मिल रहा है. परेशानी बताओ तो सत्ता कह रही है सिर्फ...
    दिसंबर 3, 2017 ओये बांगड़ू
  • इतिहास के पन्नों से गायब महिलाएं

    भले ही आज भारत में सबसे लोकप्रिय होने वाले चुटकुले पत्नी प्रताड़ित पतियों के हों पर हकीकत ये है कि वर्तमान में भारत की लोकसभा में महिलाओं का संख्या 11...
    नवंबर 15, 2017 Girish Lohni
  • आर्थिक सामाजिक और राजनीतिक दलदल के बीच हिंदी

    कह दो दुनियावालों से गांधी अंग्रेजी भूल चुका  है … आजादी के बाद बीबीसी में दिए गए वक्तव्य में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी द्वारा कहे ये शब्द आ...
    अक्टूबर 6, 2017 ओये बांगड़ू
  • पंचेश्वर बाँध- लड़ाई अपने अधिकारों की

    उत्तराखंड कुमाऊं की पहाड़ीयों में एक ज़िन है. जो वर्तमान में भारत और नेपाल सरकार की संयुक्त बोतल में बंद है. इस ज़िन को काबू में कर पहाड़ के लोगों के जी...
    अक्टूबर 3, 2017 Girish Lohni
  • बनारस(BHU)का आंखों देखा हाल

    बनारस।  काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) जहां 16 फेकेल्टी और 6 अन्य कोर्स चलते हैं।  जिसमे 40 हज़ार से अधिक छात्र छात्राएं रोज़ पढ़ते हैं। वहां के प्रशासन...
    सितंबर 26, 2017 ओये बांगड़ू
  • ये रहा राम रहीम का इतिहास

    गुरमीत राम रहीम, इस नाम को आजकल सबसे ज्यादा देखा सुना बोला जा रहा है शायद, कौन है ये ? क्या है ये ? और सबसे बड़ा सवाल क्यों है ये ? सीबीआई की विशेष अदा...
    अगस्त 30, 2017 कमल पंत
  • आजादी के बाद की सच्ची दास्ताँ

    करीब दो साल पहले अपने मीडिया संस्थान के लिए रिपोर्टिंग के दौरान एक टास्क मिला कि किसी एसे जीवित स्वतन्त्रता सेनानी को ढूंढ कर लाओ जिनके बारे में ...
    अगस्त 15, 2017 कमल पंत
  • 1 2 3 18